स्‍वास्‍थ्य संबंधी होमियोपैथिक त्रैमासिक पत्रिका

 

जुलाई 91 से होमियो जीवन के नाम से पत्रिका प्रकाशन कार्य आरंभ किया गया था. प्रथम अंक " शिशु रोग विशेषांक" के रूप में प्रकशित हुआ था. सितम्बर 92 तक होमियो जीवन के नाम से ही पत्रिका प्रकाशित होती रही. जुलाई 91 से सितम्बर 92  तक कुल चार अंक प्रकाशित हुए थे.
 
 इस बीच इस पत्रिका के निबंधन हेतु प्रयास भारत सरकार के समाचार पत्रों के कार्यालय, नई दिल्ली में कि गई थी किन्तु होमियो जीवन नाम को हमें आवंटित नहीं किया गया. अन्य नामों की चर्चा होती रही, कार्यवाई कि जाती रही. अंततः अक्टूबर 1992  में
"होमियो गगन"  नाम हमें आवंटित किया गया. अतः अक्टूबर 1992  से "होमियो गगन" के नाम से ही पत्रिका निरंतर प्रकाशित की जा रही है.

उपलब्धियां

  • स्वास्थ्य संबंधी होमियोपैथिक त्रैमासिक पत्रिका होमियो गगन प्रकाशन जगत में सफलतापूर्वक रजत जयंती पुरा कर चुका है

  • युनिसेफ़ द्वारा बी०एच०यु० वाराणसी में श्री अगस्टिन द्वारा पुरस्कार प्राप्त

  • होमियोपैथिक मेडिकल एसोसियेसन, बिहार शाखा द्वारा आयोजित काँफ़्रेस में, श्री कष्ण मेमोरियल हाल पटना में अभिनेता एवम भारत सरकार के तत्कालीन स्वास्थ्य मन्त्री श्री शत्रुघ्न सिन्हा द्वारा सम्मानित
     

  • होमियो गगन के 25 वें अंक "सेक्स रोग विशेषांक" का लोकार्पण स्थानीय होटल निहार में समारोहपुर्वक पुर्व सांसद एवं तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय के तत्कालीन कुलपति डा० शैलेन्द्रनाथ श्रीवास्तव द्वारा 16-04-1998 को किया गया
     
  • होमियो गगन के 25 वें अंक "सेक्स रोग विशेषांक" का लोकार्पण करते हुये भागलपुर विश्वविद्यालय के तत्कालीन कुलपति डा० शैलेन्द्रनाथ श्रीवास्तव, साथ में हैं पत्रिका के संपादक डा० विनय कुमार गुप्ता एवं सलाहकार मंडल के सदस्य  डा० एस० के० पंजीकार
     
  • भागलपुर पुस्तक मेले में होमियो गगन के बैनर तले होमियो गगन की पत्रिकायें एवं अन्य होमियोपैथिक  पुस्तकों के जरिये होमियोपैथिक चिकित्सा पद्धति के प्रति जागरुकता पैदा करने का सफ़ल प्रयास
     

  • होमियो गगन प्रकाशन द्वारा प्रकाशित पुस्तक "आयुष निदान"  के लोकार्पण समारोह के अवसर पर संपादक डा० विनय कुमार गुप्ता को सम्मानित करते हुए पत्रिका के संरक्षक डा० महेश प्रसाद गुप्ता, साथ में हैं सहयोगी संपादक श्री प्रदीप कुमार 

  • बिहार राज्य के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री श्री अश्विनी चौबे एवं भागलपुर के महापौर श्री दीपक भुवानिया के साथ होमियो गगन के संपादक डा० विनय कुमार गुप्ता
     

  •  पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भागलपुर के तत्कालीन सासंद शाहनवाज हुसैन के साथ होमियो गगन कार्यालय में संपादक डा० विनय कुमार गुप्ता

  • होमियो गगन कार्यालय में संपादक डा० विनय कुमार गुप्ता, उनके दोनों पुत्र तुषार - तनुष के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं भागलपुर के तत्कालीन सासंद शाहनवाज हुसैन
     

 
 

"होमियो गगन" अपने संरक्षक एवं सलाहकार मंडल, सम्मानीय लेखकों, विज्ञापनदाताओं एवं सुधी पाठकों के निरन्तर सहयोग, सुझाव, मार्गदर्शन एवं स्नेह से आज इस मुकाम पर पहुंचा है।

प्रधान संपादक
डा० विनय कुमार गुप्ता
सहयोगी संपादक
श्री प्रदीप कुमार
संरक्षक
डा० महेश प्रसाद गुप्ता( भागलपुर)
श्री बालकृष्ण शरण गुप्ता( गोरखपुर)
श्री कैलाश गुप्ता( दिल्ली)
श्री श्याम प्रकाश गुप्ता( दिल्ली)
श्री हरिशंकर प्रसाद गुप्ता( गोरखपुर)

सलाहकार मंडल
डा० वी० के० रस्तोगी (लखनऊ)
डा० वी० पी० बंसल (इन्दौर)
डा० गिरिश गुप्ता (लखनऊ)
डा० अनुरुद्ध वर्मा (लखनऊ)
डॉ० एस० एम० सिंह ( इलाहाबाद)
डॉ० एन० के० रावत (छतरपुर, म० प्र०)
डॉ० देवश्लोक शर्मा, झारसुगुड़ा, (उड़ीसा)
डॉ० एस० के० तिवारी, मैंगलोर
डॉ० बी० पी० श्रीवास्तव, कोलकाता, प० बंगाल
डॉ० बी० पी० पांडा, राजकोट, गुजरात
डॉ० पी० पी० सिंह, रायपुर, छत्तीसगढ़
डा० एस० के० पंजीकार
डा० ए० के० सिन्हा, एम० बी० बी० एस०
डा० पी० एस० सिन्हा, भोपाल
डा० गोपाल पंडित

होमियोगगन के वितरक >>

 

Site powered and maintained by VISION SOFT, Bhagalpur. 
Homoeogagan.com 2017-18